Stationery shop business plan in india

आज के टाइम में कोई भी बिजनेस से अच्छा खासा मुनाफा कमाया जा सकता है। लेकिन अगर आप इस Stationery shop खोलते हैं। यानी कि आप अपनी कॉपी किताब की दुकान खोलते हैं, तो उसमें अच्छा खासा मुनाफा कमाया जा सकता है। इसी वजह से आज हम आपको बताएंगे, कि यह बिजनेस प्रॉफिटेबल है या नहीं और आपको इसमें कितनी लागत की जरूरत पड़ेगी और तो और आप यह दुकान में माल कहां से ला सकते हैं, इन सब की जानकारी आज हम यहां आपको देंगे।

Stationery shop की मांग हमेशा ही रहती है। कोई ऐसा साल नहीं होता, जिस वर्ष Stationery shop की मांग ना होती हो और सबसे अच्छी बात यह है, कि इस बिजनेस में आपको प्रॉफिट यानी कि फायदा भी काफी अच्छा होता है। अगर आप इस तरह का बिजनेस करने के बारे में सोच रहे हैं, जो आप हमारे इस पोस्ट को अच्छी तरह से पढ़े। क्योंकि आज हम आपको इस बिजनेस से संबंधित सारी इनफार्मेशन प्रदान करने वाले हैं।

Stationery shop business plan

बिजनेस प्लान बनाना तब ज्यादा आसान हो जाता है, जब आप अपने सभी विचारों को पेपर में एक-एक करके लिख देते हैं। कि आप क्या करना चाहते हैं और क्या करने जा रहे हैं। यानी कि आप उस पेपर में उन तमाम चीजों का हिसाब लिख ले। जैसे कि आपके दुकान में किस तरह के फर्नीचर लगाने हैं और दुकान में लगने वाले सभी मटेरियल जैसे कि आप अपनी दुकान में क्या बेचना चाहते हैं। क्या रखना चाहते हैं। 

उन सभी चीजों को लिखें इसके बाद आप सबसे पहले डिसाइड करें, कि आप अपने दुकान का नाम क्या रखना चाहते हैं और उसके बाद यह ध्यान दें कि आप जिस जगह स्टेशनरी शॉप खोलना चाहते हैं वहां पर कोई और स्टेशनरी शॉप मौजूद है या नहीं और वहां पर उस दुकान की मांग है या नहीं जब आप यह सारे प्लान कर ले, तो उसके बाद आप अपने सारे खर्चों को बैठकर जोड़े और यह देखें कि दुकान खोलने के लिए आपके पास इतना बजट है या नहीं अगर नहीं है तो आपके पैसे कहां से लेंगे इत्यादि।

Location for stationery shop business 

Stationery shop खोलने के लिए आपके पास एक सही जगह होना जरूरी है। तभी आपका बिजनेस सफल होगा। इसके लिए आपको सबसे पहले एक सही जगह का चुनाव करना होगा। एक ऐसा जगह जहां इस तरह की दुकानों की मांग ज्यादा होती है। इसके लिए आपको ऐसी जगह का चुनाव कर सकते हैं। जहां पर कोई छोटी या बड़ी बाजार हो या तो फिर स्कूल कॉलेज या कोचिंग क्लासेस हो तभी आप की दुकान मे प्रॉफिट ज्यादा आएगा। इसके अलावा आपको यह भी ध्यान रखना चाहिए, कि वहां पर पानी और बिजली की व्यवस्था सही है या नहीं और उस दुकान की कीमत यानी कि दुकान का किराया कितना होगा।

stationery shop items 

अब क्योंकि आपने लोकेशन का सही से चुनाव कर लिए हैं, तो अब आप को सबसे जरूरी काम जो है, वह है दुकान में सही मटेरियल यानी की दुकान के लिए माल लाना। ताकि आप अपनी दुकान में वह माल बेच सकें। बता दूं, कि आप अपनी दुकान के लिए ब्लैक बोर्ड, वाइट बोर्ड, पेंसिल, पेन, कॉपी, किताब, स्टेपलर मशीन, मारकर, प्रोजेक्ट पेपर, स्कूल यूनिफॉर्म, फाइल, प्रैक्टिस सेट, स्कूल बैग, प्रैक्टिस पेपर इत्यादि प्रकार के कई आइटम आप अपनी दुकान में रख सकते हैं। आपको यह ध्यान रखना होगा, कि आपका दुकान किस जगह पर है। यानी कि यदि आप अपना दुकान किसी स्कूल वाले स्थान पर खोलते हैं, तो आपको उस स्कूल से संबंधित सभी तरह के मटेरियल अपने दुकान में रखने होंगे।

Session selling items 

यह बात तो आपको पता ही होगी, कि सीजन में कौन सा माल अपने दुकान में रखना चाहिए जैसे कि अगर स्कूल खुलने का समय है, तो आप अपने दुकान में बैग, बुक या फिर कोई भी ऐसी आइटम, जो उस दौरान ज़्यदा बिक्री होती है, इसलिए उन्हें अपनी दुकान में अवश्य रखें। जिससे आपके दुकान की बिक्री अच्छी होगी और आपको अच्छा मुनाफा मिलेगा। इसके अलावा आपको अन्य मौके पर यानी कि अलग-अलग समय पर आप अलग-अलग चीजें अपने दुकान में बेच सकते हैं। क्योंकि अलग-अलग समय पर अलग-अलग चीजों की जरूरत पड़ती है। ऐसे में आपके दुकान को अच्छा मुनाफा प्राप्त होगा।

Shop Registration 

दुकान को अच्छी तरह से चलाने के लिए आपको इस प्रक्रिया से अवश्य गुजरना होगा। जिससे कि आपके बिजनेस को सरकार का सहयोग मिल सके।

जैसे कि अगर आप कभी लोन वक्त इत्यादि लेते हैं, तो आपके दुकान का रजिस्ट्रेशन होना काफी जरूरी होता है या इसके अलावा आपके दुकान पर कोई प्राकृतिक आपदा जैसे कि आग लगना या फिर कोई अन्य मुसीबत आने पर आपको सरकार की तरफ से मदद मिल सकती है। इसके लिए आपको अपने दुकान का रजिस्ट्रेशन कराना बेहद जरूरी है। नीचे बताए गए तरीकों की मदद से आप अपने दुकान का रजिस्ट्रेशन आसानी से करवा सकते हैं।

Proprietorship 

सबसे अच्छी बात तो यह है, कि अगर आप चाहे तो आप अपने को लघु उद्योगों को भी रजिस्टर करवा सकते हैं। आपको इसके लिए आधार उद्योग के माध्यम से रजिस्टर कर सकते हैं। जो कि MSME की सुविधा है।

GST Regulation

आज के समय मे सबसे ज़रुरी है, GST Registration जो सभी दुकानो के लिए होना बेहद महत्वपूर्ण है। जिसके लिए आप किसी भी GST suvidha center में या तो पेट GST Registration – GST.gov.in से भी कर सकते हैं।

Braiding & Promoting Shop

जिसके बाद सबसे जरूरी काम अपने दुकान का प्रचार प्रसार करना है। ताकि आपके दुकान के बारे में लोगों को ज्ञात हो सके और वह आपके दुकान से सामान खरीदने के लिए पहुंच सके। इसी वजह से आप अपनी दुकान के ब्रांडेड पर भी थोड़ा ध्यान केंद्रित करें। जिससे कि आपकी दुकान का नाम लोगों के दिमाग में बैठ सके। आप अपनी दुकान का प्रचार बैनर या पोस्टर की मदद से कर सकते हैं।

Stationery shop budget 

आपको अपने बिजनेस को शुरू करने के लिए कम से कम 4 से 5 लाख का बजट ध्यान में रखना होगा। क्योंकि इस बिजनेस को शुरू करने में इतना बजट लग सकता है। लेकिन आप चाहे तो अपने हिसाब से भी इस बजट को बढ़ा या घटा सकते हैं यह आप पर डिपेंड करता है, कि आप अपने बिजनेस को किस तरह से शुरु करते हैं और कितने माल लगाकर अपने काम की शुरुआत करते हैं।

Precautions 

ध्यान रहे Stationery shop खोलने से पहले इस बिज़नेस से संबंधित सारी जानकारियां अच्छी तरह से मालूम कर ले और उसके बाद ही इस बिजनेस को शुरू करने के बारे में आप सोचें। क्योंकि अगर आपको इस बिजनेस से संबंधित पूरी जानकारी प्राप्त नहीं होगी। तो आपका बिजनेस घाटे में भी जा सकता है। इसलिए सबसे पहले जो जरूरी है, वह है इसको सही प्रकार से एनालाइज करना और फिर इस काम में हाथ लगाना। क्योंकि बिना जाने बूझे किसी भी बिजनेस की शुरुआत नहीं करनी चाहिए।

निष्कर्ष

जैसा कि आज हमने जाना Stationery shop business plan in india के बारे में और हमें उम्मीद है, कि हमारे द्वार दी गयी जानकारी आपके लिए काफी फायदेमंद भी साबित हुई होगी। अगर आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आया है, तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें। ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस प्लान के बारे में ज्ञात हो सके और हमें कमेंट करके जरूर बताएं, कि आप को और किस तरह के business plan के बारे में जानकारी। चाहिए, ताकि हम से आप तक जल्दी चल सके

Leave a Comment