Indian dairy farm business plan in hindi

आजकल भारत में डेयरी फार्म का कारोबार दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। ऐसा माना जाता था कि है काम देहाती लोगों का है परंतु आजकल समय के साथ साथ लोगों की सोच में भी बदलाव हुआ है तथा लोग डेयरी फार्म का कारोबार करके अच्छा खासा मुनाफा कमा रहे हैं। आजकल बड़ी-बड़ी कंपनियां बड़े और व्यापक स्तर पर डेयरी फार्म का बिजनेस कर रही है।

अगर आप चाहे तो आप भी डेयरी फार्म का यह कारोबार शुरू कर सकते हैं लेकिन उसके लिए आपको उसके बारे में पूरी जानकारी की जरूरत होगी, इसलिए हम आपको अपने इस आर्टिकल में डेयरी फार्म के बिज़नेस से जुड़ी सारी आवश्यक जानकारियां दे रहे हैं ताकि आप भी बेझिझक यह कारोबार शुरू कर सकें।

डेयरी फार्म बिज़नेस क्या है?

डेयरी फार्मिंग का अर्थ दूध उत्पादन करने की प्रक्रिया से है। गाय भैंस अथवा बकरी को पाल कर उनका दूध अथवा दूध से बने अन्य पदार्थ बेचना ही डेयरी फार्म बिजनेस कहलाता है। दरअसल यह बिजनेस उतना सरल नहीं है जितना हम सोचते हैं। काफी मेहनत वाला काम है। हमारा देश पूरी दुनिया में होने वाले दूध उत्पादन का 18.5% भाग उत्पादन करता है। अतः इस कारोबार की हमारे देश में बहुत मांग है। दूध एक ऐसा उत्पाद होता है जिसका निर्यात करके भी आप अच्छे पैसे कमा पाते हैं। इस बिज़नेस को आप अपने अनुसार छोटे अथवा बड़े स्तर पर कर सकते हैं।

गाय और भैंस कैसे खरीदें व कितने में खरीदें?

लोग गाय और भैंस दोनों का ही दूध लेना पसंद करते हैं। बिजनेस शुरू करने के लिए आपको गाय और भैंस दोनों ही खरीदनी होगी। ज्यादा दूध देने वाली गाय और भैंसों की मांग अधिक होती है। ऐसी गाय आपको मंडी से मिल जाती है। इनकी कीमत थोड़ी ज्यादा होती है।

अगर आप मंडी से पर दूध देने वाली भैंस खरीदते हैं तो आपको लगभग ₹30000 तक मिल  जाएगी तो यदि आपने 10 वैसे भी खरीद ली तो वह आपको ₹300000 तक की पड़ जाएंगी जो कि काफी अधिक रकम होती है। इसलिए अगर आप दूध देने वाली गाय या भैंस किसी गांव में से खरीदते हैं तो आपको काफी कम रकम में मिल जाती है इसलिए शुरुआत में आपको अपना कारोबार शुरू करने में आसानी होगी।

आप सरकारी पोर्टल के जरिए भी गाय, भैंस खरीद सकते हैं। जिसका लिंक है– https://epashuhaat.gov.in/ इस लिकं पर जाकर आपको बहुत प्रकार की नस्ल की गाय, भैंसों की जानकारी भी मिल जाएगी।

मंडी से अथवा गांव से जहां से भी गाय या भैंस खरीद दें परंतु आपको खरीदते समय किसी अनुभवी व्यक्ति को अपने साथ अवश्य ले जाना चाहिए जो आपको बता सके कि आपके कारोबार के अनुसार गाय/ भैंस की नस्ल अच्छी है अथवा नहीं, अगर आप गलती से कम दूध देने वाली गाय अथवा भैंस को जोड़ लेते हैं तो उससे आपको अपने कारोबार में बहुत हानि उठानी पड़ सकती है।

छोटे स्तर पर डेयरी फार्म बिज़नेस

छोटे स्तर पर भी यह बिजनेस शुरू करने पर आपकी लाखों रुपए की कमाई हो सकती है। आपको किस स्तर पर यह बिजनेस शुरू करना है यह आपके बजट पर निर्धारित होगा। यदि आपके पास ₹100000 से कम का बजट है तो आपको शुरुआत में छोटे स्तर पर डेयरी फार्म का बिजनेस शुरू करना होगा। गांव की अपेक्षा आपके लिए शहर में यह कारोबार करना बेहतर होगा क्योंकि गांव शहर में आप अधिक मुनाफा कमा सकते हैं।

छोटे स्तर पर यह बिजनेस कैसे शुरू करना है उस के लिए आपको हमारे द्वारा नीचे बताई गई प्रक्रिया का पालन करना होगा।

  1. पूंजी एकत्र कीजिए

इस बिजनेस के लिए सबसे पहले आपको पूंजी यानी फंड एकत्रित करना होगा। आपको ₹100000 की जरूरत पड़ेगी। अगर आपके पास अपनी जमा पूंजी नहीं है तो आप इसके लिए लोन ले सकते हैं अथवा अपने मित्र व रिश्तेदारों मिलकर पूंजी एकत्र कर सकते हैं।

  1. जरुरत की चीजें इकट्ठी कीजिए

आपको इस बिजनेस से संबंधित अन्य वस्तुएं इकट्ठी करनी होगी, जिनकी जरूरत आपको पड़ेगी। आपको  तराजू , दूध वाइब्रेटर व फैट मापक मशीन की आवश्यकता होगी और दूध रखने हेतु पात्र भी लेना होगा। आपको दूध पहुंचाने के लिए मोटरसाइकिल की व्यवस्था भी करनी होगी।

  1. जगह चुनिए

आपको अपने इस बिजनेस के लिए एक दुकान किराए पर लेनी होगी। दुकान ऐसी जगह पर लीजिये जहां से  आपके ग्राहक को आने जाने में कोई समस्या न हो।

  1. दूध पहुंचाने का काम

अब आपको अपने गाय-भैंसों का दूध इकट्ठा करके अपने ग्राहकों को उसकी सप्लाई देनी होगी इसके लिए आप उचित साधन का प्रयोग करके सप्लाई कीजिए ताकि आप समय पर सब को दूध पहुंचा पाएं।

आप दूध की गुणवत्ता के हिसाब से ग्राहकों से पैसे ले सकते हैं और धीरे-धीरे करके अपने बिजनेस को और बढ़ा सकते हैं। यदि आप अपनी गाय भैंसे नहीं खरीदना चाहते हैं तो आप पास के गांव में संपर्क करके उनसे दूध खरीद सकते हैं और उस पर प्रॉफिट कमा सकते हैं।

बड़े या मध्यम स्तर पर डेयरी फार्म बिज़नेस

अगर आप किसी कारोबार को बड़े स्तर पर करना चाहते हैं तो  आपको कम से कम 30 लाख रुपये तक का इन्वेस्टमेंट करना होगा। यदि एक भैंस एक दिन में 10 लीटर दूध देती है, तब 30 भैंसों के हिसाब से प्रतिदिन आपको 300 लीटर दूध बेचने के लिए मिलेगा। इस दूध को यदि 40 रुपए प्रति लीटर के से बेचा जाए, तब भी आपको 1 दिन में ही 12000 हजार रुपए का फायदा होता है।

बड़े या मध्यम स्तर के डेरी फार्मिंग बिज़नेस को शुरू करने के लिए आपको कुछ जरूरी बातें हम नीचे बता रहे हैं।

  1. कारोबार और निर्माण कार्य हेतु सही जगह का चुनाव

कोई भी व्यवसाय शुरू करने से पहले आपको उसके लिए सही स्थान का चुनाव करना आवश्यक होता है ताकि आपके व्यवसाय में प्रगति हो। इसके साथ ही वहां पर पानी, बिजली तथा अच्छी सड़क की व्यवस्था भी अवश्य जांच लेनी चाहिए।

आपको इस बिजनेस के लिए एक या दो एकड़ जमीन की आवश्यकता होगी क्योंकि जानवरों को रखने तथा इस कार्य से जुड़े सामान को रखने के लिए खुली जगह की आवश्यकता होती है। जानवरों को रखने के लिए उचित स्थान की व्यवस्था करनी होगी। जिसके लिए एक बड़े हॉल के जैसे कमरे की जरूरत पड़ेगी। यह स्थान ऐसा होना चाहिए जिससे जानवरों को गर्मी,सर्दी तथा बरसात में कोई भी परेशानी ना आए।

  1. काम करने वाले लोगों की आवश्यकता

किस डेरी फॉर्म बिजनेस के लिए आपको कम से कम पांच लोगों की जरूरत पड़ेगी जो आपके काम में आपकी सहायता कर सकें, जानवरों की देखभाल कर सकें, उनको समय पर खाना और पानी दे सके और आपके उत्पाद को ग्राहकों तक पहुंचा सकें। गाय भैसों का दूध निकालने के लिए भी आपको लोगों की आवश्यकता पड़ेगी। दूध निकालने के काम पर लगाए गए लोगों को सफाई से दूध निकाले के निर्देश अवश्य दें।

  1. मवेशियों का चुनाव कीजिए

जब आप यह कार्य बड़े स्तर पर शुरू कर रहे हैं तो आपको पहले यह भी निर्धारित करना होगा कि आप शुरुआत में गाय का दूध बेचना चाहते हैं या भैंस का।

क्योंकि गाय का दूध पतला होता है, उसमें पेट कम होता है और महंगा भी बिकता है इसके अलावा भैंस का दूध भी गाढ़ा होता है और वह इस गाय के दूध की अपेक्षा सस्ता बिकता है। बाद में आप अपने ग्राहकों की मांग के अनुसार गाय का दूध भी बेच सकते हैं।

  1. गाय भैंसों को देने वाला खाना

यदि आप चाहते हैं कि आपकी गाय भैंसे अच्छी मात्रा में दूध दे, तो आपको अपने जानवरों को अच्छा खाना देना होगा, क्योंकि कोई भी गाय या भैंस के दूध देने की क्षमता के खाने की मात्रा और गुणवत्ता पर भी निर्भर होती है। अतः अपने गाय-भैंसों के खाने और पानी का आपको ठीक प्रकार से खयाल रखना होगा। भैंसों व गायों को खाने में सुखा चारा और ताजी घास दिया जाता है। इसके अलावा गाय भैंस को बहुत प्रकार के खनिज से युक्त खाद्य वस्तुएं भी खाने को दी जाती हैं।

  1. अपने व्यापार का पंजीकरण करवाइए

अगर आप अपनी कंपनी खोलकर दूध बेचने के इच्छुक हैं, तो आपको उसके लिए आपको अपनी कंपनी का पंजीकरण करवाना आवश्यक है। पंजीकरण के लिए आपको अपने कंपनी का एक अच्छा सा नाम सोचना होगा और फिर नाम के पंजीकरण के लिए स्थानीय प्राधिकरण से ऑफिस में जाकर करवा सकते हैं। इसके साथ ही आपको ट्रेड लाइसेंस, FSSAI लाइसेंस तथा वैट पंजीकरण भी करवाना होगा। इस सारी प्रक्रिया में आपका कुछ पैसा भी खर्च होगा।

  1. पैकेजिंग व्यवस्था

यदि आप अपनी कंपनी खोलते हैं, तो इसके लिए आपको दूध बेचने हेतु पैकिंग के लिए पैकेट बनवाने होंगे। इन पैकेट पर आपको अपनी कंपनी का नाम और आवश्यक जानकारी भी छपवानी होगी साथ ही दूध कब पैक किया गया है यह जानकारी भी पैकेट पर छपवानी होगी।

  1. बिज़नेस की मार्केटिंग

है कोई भी बिजनेस हो उसका प्रचार करना बहुत जरूरी होता है, जिससे लोग आपकी कंपनी के बारे में और आपके प्रोडक्ट के बारे में जान सके। अपनी कंपनी की मार्केटिंग करने से आपके द्वारा बनाए गए सामान की जानकारी लोगों तक पहुंच पाएगी। जिससे आपके बिज़नेस को फायदा पहुँचेगा। इस प्रचार के काम हेतु आप न्यूजपेपर और मैगज़ीन में विज्ञापन दे सकते हैं।

आशा है यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा इसे लाइक व शेयर अवश्य करें।

Leave a Comment