Event management business plan

आज के समय में इवेंट मैनेजमेंट बिज़नेस काफी प्रचलन में है और कई लोग यह बिजनेस करके अच्छे खासे पैसे कमा रहे हैं, क्योंकि क्योंकि चाहे कोई भी प्रोग्राम क्यों ना हो  हर कोई आयोजनकर्ता चाहता है कि वह प्रोग्राम सफल रूप से संचालित हो। आजकल के इस कम्पीटिशन के दौर में आयोजन की भली भांति प्लानिंग कर साथ संचालित करना लोगों चुनौती बन गया है। इसलिये लोग ऐसे आयोजनों को ठीक प्रकार से सम्पूर्ण करने हेतु उस स्थान के किसी प्रोफेशनल इवेंट मैनेजमेंट प्लानर अथवा कंपनी की सहायता लेते हैं और इस कार्य के बदले उन्हें पेमेंट करते हैं। 

लोगों की इनकम बढ़ने के ही वे शादी  ब्याह, पार्टी जैसे प्रोग्रामों में भी ज्यादा खर्च करते हैं और इन प्रोग्रामों को यादगार बनाने की पूरी कोशिश करते हैं । इसी वजह से लोग किसी भी occasion की तैयारीयां स्वयं नहीं करते बल्कि किसी इवेंट मैनेजमेंट कम्पनी को हायर करते हैं। 

अगर आप भी Event Management Business ओपन करना चाहते हैं, या इसके बारे में जानकारी लेना चाहते हैं तो हम आपको इस बिज़नेस प्लान की शुरू से अंत तक सारी इनफार्मेशन दे रहे हैं।

इवेंट मैनेजमेंट बिज़नेस क्या है 

वैसे तो इवेंट का मतलब किसी घटना से सम्बन्धित होता है लेकिन इसे एक योजनाबद्ध सार्वजनिक अथवा सामाजिक अवसर भी कहा जा सकता है। इन अवसरों में शादी ब्याह, बर्थडे पार्टी, सालगिरह पार्टी, ऑफिस पार्टी तथा दूसरे कई प्रकार के प्रोग्रामों को शामिल किया जाता है। जिनके सफल संचालन हेतु इन प्रोग्राम्स के आयोजक कर्ता इवेंट मैनेजमेंट कम्पनी की सहायता लेते हैं। इस प्रकार से यह कहा जा सकता है कि जब कोई  प्लानिंग के साथ सार्वजनिक अथवा सामाजिक अवसर की तैयारी व उसे ठीक प्रकार से पूरा करने की जिम्मेदारी उठाने वाली कंपनी इवेंट मैनेजमेंट कम्पनी होती है। 

आजकल केवल घरेलू आयोजन ही नहीं होते हैं बल्कि व्यवसायिक व कॉर्पोरेट आयोजन भी होते ही रहते हैं यह ऐसे इवेंट होंगे हैं जो बिना किसी इवेंट मैनेजमेंट कम्पनी की सहायता के सफल रूप से संचालित करने असम्भव हो जाता है, अतः आज के समय में शहरों में इस बिज़नेस की जरूरत बढ़ती जा रही है।

इवेंट मैनेजमेंट बिज़नेस शुरू करने के लिए जरूरी कौशल

अगर आप भी यह बिज़नेस शुरू करना चाहते हैं तो आपके पास इस व्यापार के लिए कुछ खास कौशल होना चाहिये जो इस प्रकार से है :

  • इस काम में महनती लोगों को ही नियुक्त किया जाना चाहिए क्योंकि इसमें मेहनती लोगों का ही काम होता है।
  • इवेंट मैनेजमेंट के कार्य में टाइम लिमिट का बहुत ध्यान रखने की जरूरत होती है, अतः सारे काम व प्रबन्ध सही समय पर किये जाने आवश्यक होता है। 
  • इस बिज़नेस में आपको समस्याओं को सुलझाने की कला आना भी आवश्यक है।
  • कोई भी परेशानी आने पर आपके पास दूसरे उपयुक्त विकल्प होने चाहिये। 
  • आपके पास अपनी सेवा बेचने और ग्राहकों को अपनी सर्विसेज और नए नए आईडिया जैसे आप इवेंट मैनेजमेंट के तहत दूसरों से क्यों और किस तरीके से बेहतर सेवाएं प्रदान करवा सकते हैं इन सबके बारे समझाना आना चाहिए। 
  • आपको इस व्यवसाय हेतु लेन देन से जुड़ा सम्पूर्ण ज्ञान होना चाहिए, क्योंकि इस कार्य में छोटी छोटी वस्तुएं और उनके मूल्यों को याद रखना तथा उनका हिसाब किताब रखना होता है।
  • आप यदि इवेंट मैनेजमेंट का बिज़नेस करना चाहते हैं तो आपके पास अच्छी नेतृत्व क्षमता भी होनी चाहिए और साथ ही सब को मोटिवेट करके टीम वर्क करवाना भी आना चाहिए ।

इवेंट मैनेजमेंट का बिज़नेस किस प्रकार स्टार्ट करें 

यह बिज़नेस स्टार्ट करने के लिए हम आपको कुछ महत्वपूर्ण बातें बता रहे हैं जिन्हें फॉलो करके आप यह बिज़नेस पूरी प्लानिंग के साथ कर पाएंगे।

  • इवेंट मैनेजमेंट के अंतर्गत सेवा का चयन कीजिए

इस बिज़नेस में कई प्रकार की सर्विसेज प्रदान की जाती हैं, अन्य व्यवसायों की तरह इसका क्षेत्र भी बड़ा है। अतः बिज़नेस के प्रारम्भ में आप इससे जुड़ी सभी सर्विसेज नहीं दे पाएंगे, क्योंकि विभिन्न सेवाएं एक साथ देने पर आपके सामने कई प्रकार की चुनौतियां आएंगी। अतः यह व्यवसाय स्टार्ट करने हेतु आपको पहले अपनी सर्विस निर्धारित करनी होगी जो कि आप देना चाहते हैं।

आपको यह भी ध्यान रखना होगा कि आप उसी सर्विस का चुनाव कीजिए , जिसके बारे में आपके पास अच्छी नॉलेज तथा अनुभव हो। 

आप चाहें तो शुरु में शादी, सालगिरह, बर्थडे आदि अवसरों पर भी अपनी सेवाएं कस्टमर्स को उपलब्ध करवा सकते हैं। बाद में धीरे धीरे आप आगे बढिए और अन्य बड़े इवेंट भी मैनेज कीजिए। परन्तु शुरूआत में ही यदि आप कॉर्पोरेट इवेंट का प्रोजेक्ट ले लेते हैं तो यह जोखिमभरा हो सकता है। 

  • कॉम्पिटिशन के अनुसार प्लानिंग कीजिए

अब आपके द्वारा दी जाने वाली सर्विस चुन लेने के बाद आपको यह पता लगाना होगा कि आपके एरिया में इस बिज़नेस में कितना कम्पटीशन है, फिर आपको उसी के अनुसार अपनी पूरी प्लानिंग करनी होगी। यह जानने के लिए कि आपके एरिया में आपके कितने कॉम्पेटिटर्स हैं, इसके लिए आपको पता करना होगा कि आपके एरिया में कितनी इवेंट मैनेजमेंट कंपनी हैं और इनमें कितने वर्कर्स काम करते हैं, इसके साथ ही आपको यह भी पता करना होगा कि आपके कंपीटीटर्स के पास कितने कस्टमर आते हैं।  

साथ ही यह भी जाने की उनके स्ट्रांग पॉइंट्स एवं वीक पॉइंट्स कौन-कौन से हैं यानि उनकी कौन सी बातें हैं जो ग्राहकों को पसंद है और कौन सी है जो ग्राहक पसंद नहीं करते हैं। इन सभी बातों की जानकारी आपको लेनी होगी, क्योंकि छोटे  शहरों की अपेक्षा बड़े-बड़े शहरों जैसे हैदराबाद,बंगलौर,दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता आदि में इवेंट मैनेजमेंट के बिजनेस में बहुत अधिक कंपटीशन है। परंतु कंपटीशन के डर से आपको पीछे नहीं हटना है अगर आपके पास अच्छी प्लानिंग है और अच्छे आईडियाज हैं जो कि कस्टमर को आपकी सेवाएं लेने हेतु अट्रैक्ट कर सकते हैं तो निश्चित रूप से आप इस व्यवसाय में अपने मन मुताबिक कमा सकते हैं।

  • अच्छी प्लानिंग करें 

व्यवसाय चाहे कोई भी हो उसके लिए प्लानिंग बहुत आवश्यक होती है आपको ऊपर बताई गई सारी बातों की जानकारी ठीक प्रकार से लेकर फिर उसके अनुसार प्लानिंग करनी होगी। जिसके अंतर्गत आपको अपने बिजनेस के लक्ष्य, आपके बिजनेस की आवश्यकता, कस्टमर कैसे प्राप्त होंगे, आपको अपने व्यवसाय के लिए पूंजी की कितनी आवश्यकता पड़ेगी और इस पूंजी का  प्रबंध आप कहां से करेंगे इन सभी चीजों पर  गौर करके  पूरा प्लान बनाना होगा। 

इवेंट मैनेजमेंट बिज़नेस के लिए बिज़नेस प्लान

आपकी बिजनेस प्लैनिंग को और आसान बनाने के लिए हम नीचे कुछ विशेष पॉइंट्स बता रहे हैं इसके अनुसार आप अपनी प्लानिंग सरलतापूर्वक कर सकते हैं। 

  • पूंजी का प्रबंध करें

इस बिजनेस के बारे में सारी जानकारी प्राप्त कर लेने के बाद में आपने यह भी पता कर लिया होगा कि आप जिस स्तर पर यह बिज़नस शुरू करना चाहते हैं उसमें अनुमानित तौर पर कितनी लागत आएगी। अतः अब आपको  यह बिजनेस  शुरू करने हेतु पूंजी का  प्रबंध करना होगा। इस पूंजी में आप अपनी जमा पूंजी का इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं या फिर बैंक से लोन  भी ले सकते हैं। आप आपने बिजनेस के लिए इन्वेस्टर्स भी खोज सकते हैं।

  • ऑफिस किराये पर लीजिए

बिजनेस के लिए पूंजी जमा हो जाने के बाद अब आपको एक ऑफिस किराये पर लेने की आवश्यकता पड़ेगी। जिससे कि आप अपनी सेवाओं के लिए कस्टमर की बुकिंग कर पाएं। आपको इस ऑफिस पर एक वर्कर भी अपॉइंट करना होगा।

  • अपनी कंपनी का नाम व लोगो डिसाइड कीजिए

अब आपको अपनी इवेंट मैनेजमेंट कंपनी हेतु एक अच्छा सा नाम और लोगो सोचना होगा। आप चाहे तो नेट पर भी है नाम सर्च करके फाइंड कर सकते हैं आपको ऐसा नाम रखना होगा जो पहले किसी इवेंट मैनेजमेंट कंपनी ने रजिस्टर ना कर रखा हो।

  • अपने बिज़नेस को रजिस्टर्ड करवाएं 

इस बिज़नेस का नाम और लोगो सेलेक्ट कर लेने के बाद अब आपको अपने बिज़नेस को कंपनी के तौर पर रजिस्टर करवाना होगा। यह एक आवश्यक प्रक्रिया है और इससे आपको आगे जाकर अपने काम में परेशानी नहीं होगी व आपका कार्य भविष्य में कागजी कार्यवाही की वजह से आने वाली बाधाओं से रहित हो जाएगा।

  • स्टाफ नियुक्त कीजिए

अब आपको अपने इस बिजनेस के लिए आपके साथ काम करने वाले स्टाफ वर्कर्स की जरूरत होगी। स्टाफ की नियुक्ति करने से पहले आपको यह जरूर पता कर लेना चाहिए कि आपके इस बिजनेस के लिए कौन सा ऐसा स्टाफ है जो पार्ट टाइम मैं आपके साथ काम कर सकते हैं क्योंकि कई बार आपको इस इवेंट मैनेजमेंट के काम में फुल टाइम स्टाफ की आवश्यकता नहीं पड़ती। कई बार तो हो सकता है आपके पास काम करने के लिए कोई इवेंट ना हो, ऐसे में स्टाफ को पेमेंट करना आपके लिए नुकसानदायक होगा अतः आपको यह डिसाइड करना होगा कि कौन सा स्टाफ आपको फुल टाइम के लिए रखना है और कौन सा पार्ट टाइम के लिए।

  • अपने बिज़नेस की मार्केटिंग कीजिए

अपने बिजनेस के लिए स्टाफ रखने के बाद में अब आपका लक्ष्य केवल कस्टमर कस्टमर खोजना है। जिसके लिए आपको और आपके साथ काम करने वाले स्टाफ को अलग-अलग मार्केटिंग टेक्निक के द्वारा अपनी कंपनी का प्रचार करना है ताकि आप ग्राहकों को अपनी सेवा हेतु आकर्षित कर सकें। जैसे जैसे आपकी कंपनी का ज्यादा प्रचार होगा वैसे ही आपके कस्टमर बढ़ेंगे और साथ ही आपकी इनकम भी बढ़ेगी।

Leave a Comment