BBA Course Full Details in hindi

समय के साथ पढ़ाई का महत्व भी धीरे-धीरे लोगों के बीच बढ़ता जा रहा है। युवा वर्ग अपने सपनों की उड़ान भरने के लिए विभिन्न प्रकार के कोर्स कर रहे हैं। ताकि वह जिंदगी में एक अच्छा इंसान और एक शानदार मकाम पा सके। 12वीं पास करने के बाद ही युवाओं में कंपटीशन की होड़ शुरू हो जाती है। वह  अपने लक्ष्य को पूरा करने के उद्देश्य से कड़ी मेहनत व तपस्या करते हैं, ताकि उनकी एडमिशन उनके मनपसंद कोर्सेज के साथ बेहतरीन कॉलेज में हो सके। कई युवाओं को समय के साथ यह ज्ञान हो जाता है कि उनका लक्ष्य क्या है और वे भविष्य में क्या बनना चाहते हैं और उन्हें कौन सी पढ़ाई Choose करनी चाहिए। इन सब बातो की पूरी जानकारी उन्हें पहले से पता होती है। 

लेकिन बहुत से युवा ऐसे हैं, जिन्हे इस बात का ज्ञान नहीं होता की भविष्य में उन्हे क्या बनना है और उनके लिए क्या कोर्स सही है। हालांकि आज बहुत से अच्छे कोर्स युवाओं के लिए अवेलेबल है, जिसे करके वह अच्छी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। इनमें से BBA भी एक कोर्स है, जिसे करने के बाद युवा अच्छी खासी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन बहुत से युवाओं को BBA की सही जानकारी मालूम नहीं होती। उन्हें यह तक नहीं पता कि आखिर बीबीए क्या होता है (What is BBA Course in Hindi), BBA full form in hindi क्या है और इसे कैसे करें इसलिए हमने सोचा क्यों ना आज BBA से संबंधित सारी जानकारी उन युवाओं तक पहुंचाई जाए जिन्हें इस कोर्स के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त नहीं है।

दोस्तों आपकी जानकारी के लिए बता दें कि BBA और MBA एक बहुत ही Popular Degree Courses है। यही एक ऐसा कोर्स है, जिसे करने के बाद बिजनेस के टिप्स और ट्रिक्स आप आसानी से सीख सकते हैं। जिसके बाद आप चाहे तो अपना खुद का बिजनेस स्टार्टअप भी कर सकते हैं। हालांकि यह कोर्स करने में थोड़ा समय लगता है, लेकिन यह काफी प्रॉफिटेबल कोर्स है। लेकिन इसके लिए हमें यह जानना जरूरी है कि BBA कोर्स करने के लिए युवाओं के पास क्या- क्या क्वालिफिकेशन होना जरूरी है। तो दोस्तों देर किस बात की चलिए जानते हैं BBA course information in hindi. 

BBA Course क्या होता है (What is BBA Course in Hindi) 

BBA यानी बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन(Bachelor of Business Administration) यह एक बैचलर यानी स्नातक डिग्री कोर्स है। यहां बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन का मतलब होता है व्यवसाय प्रशासन। यानी की किसी भी बिजनेस को सही तरीके से मैनेज करना। छात्र BBA course में एडमिशन 12वीं के बाद आसानी से ले सकते हैं। 12वीं के बाद छात्र चाहे तो मैनेजमेंट से जुड़ी और भी कई कोर्स कर सकते हैं जिनमें सबसे बड़ा MBA course डिग्री होता है, जिसे BBA करने के बाद किया जा सकता है।

BBA का कोर्स लगभग 3 सालों का होता है। 3 साल में लगभग छात्रों को 6 सेमेस्टर से गुजरना पड़ता है। BBA में आपको कई तरह के विषय पढ़ाए जाते हैं। जैसे  चार्टर्ड अकाउंटेंट, बिजनेस कम्युनिकेशन, मार्केटिंग मैनेजमेंट, इत्यादि। लेकिन ध्यान रहे यहां आपको बिजनेस से रिलेटेड ही विषय पढ़ाए जाएंगे। इस कोर्स को करने से युवाओं में कम्युनिकेशन स्किल्स बेहतर होती है। खासकर जिन्हें बिजनेस मैनेजमेंट में काफी इंटरेस्ट होता है, उनके लिए यह कोर्स काफी इंटरेस्टिंग है। इस कोर्स को करने के बाद यदि आप चाहें तो जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं या कहीं इंटर्नशिप कर सकते हैं। लेकिन यदि आप इंटर्नशिप या जॉब में अप्लाई नहीं करना चाहते हैं, तो इसके इसके आगे MBA course भी कर सकते हैं। यह कोर्स आपके बिजनेस स्किल को और बेहतर करता है।

BBA course के लिए योग्यता

BBA course में एडमिशन लेने के लिए युवाओं के पास निम्न योग्यताएं होना आवश्यक है जैसे – 

  • युवाओं को दसवीं क्लास में 45% अंकों के साथ उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।
  • 12वीं बोर्ड में 55% अंकों के साथ उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।
  • हल्की BBA में एडमिशन किसी भी विषय के छात्र ले सकते हैं। यानी की वह साइंस कॉमर्स या आर्ट्स किसी भी स्ट्रीम का छात्र क्यों ना हो वह ऐडमिशन ले सकता है।
  • किसी भी अच्छे कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम पास करना जरूरी है, लेकिन लोकल कॉलेज में छात्र डायरेक्ट भी एडमिशन भी ले सकते हैं।

BBA course के विषय

जैसा कि हमने बताया BBA course लगभग 3 सालों का होता है। जिनमें छात्रों को 6 सेमेस्टर से गुजरना होता है। हर एक सेमेस्टर 4 महीने पर होता है और प्रत्येक सेमेस्टर में अलग-अलग विषयों को पढ़ना होता है। हालांकि BBA course में एडमिशन लेने से पहले छात्रों को अपने पसंद का फील्ड सेलेक्ट करना होता है। नीचे हम कुछ महत्वपूर्ण फील्ड के बारे में बताने वाले हैं जिसे आप देखकर और समझकर अपने पसंद का फील्ड चुन सकते हैं।

  • BBA Human Resource Management Business Economics 
  • Production and material management
  • Personnel Management and Industrial Relations 
  • BBA Finance 
  • Business mathematics 
  • Statistic  
  • Financial and Management Accounting

BBA course के लिए सिलेबस

BBA course में 6 सेमेस्टर होते हैं। जिसमें प्रत्येक समेस्टर 4 महीने बाद लिया जाता है आइए जानते हैं के इन सेमेस्टर में छात्रों को कितने विषय पढ़ने  होते हैं।

First semester 

  • Principle of microeconomics 
  • Principle of financial accounting 
  • Business English – 1 
  • Elements of Management 
  • Enrichment course  ‐ 1 
  • Business mathematics – 1 

Second semester 

  • Enrichment course – 2 
  • Company accounts 
  • Business English – 2 
  • Introduction to Indian society  
  • Business mathematics – 2 
  • The principal of macroeconomics 

Third semester 

  • oral communication in business 
  • Introduction to Indian business environment Enrichment course – 3 
  • Introduction to business statistics 
  • Managerial skills 
  • Government and business 

Fourth semester 

  • Introduction to organisation behaviour
  •  Enrichment course – 4 
  • English literature 
  • Introduction to operation research 
  • Indian business history 
  • Taxation 

Fifth semester 

  • Human Resource Management 
  • Business Law 
  • Indian economy 
  • Marketing management 
  • Enrichment course – 5 
  • Fundamentals of financial management 

Sixth semester 

  • Management information system 
  • Enrichment course – 6 
  • Principle of research methodology 
  • Financial Service 
  • Introduction to strategic management

BBA course किस तरह करे

 यदि छात्र चाहे तो 2 तरीके से BBA course कर सकते हैं।

Private course  

छात्र चाहे तो प्राइवेट से भी BBA course कर सकते हैं इसके लिए आपको किसी भी यूनिवर्सिटी की वेबसाइट पर जाकर अप्लाई करना होगा। बहुत से ऐसे यूनिवर्सिटी है, जो ऑनलाइन BBA course कराती है। आप इंटरनेट के द्वारा उन यूनिवर्सिटी के बारे में पता लगा सकते हैं और फिर आवेदन कर सकते हैं।

Regular course

 लेकिन यदि आप प्राइवेट से BBA course  नहीं करना चाहते हैं, तो आप अपने पसंद के यूनिवर्सिटी या कॉलेज में  जाकर एडमिशन ले सकते हैं। लेकिन इसके लिए सबसे पहले आपको यह पता करना होगा कि कौन सा यूनिवर्सिटी या कॉलेज BBA course करवाता है,क्योंकि यह कोर्स सभी कॉलेजेस में नहीं मौजूद होता। इसलिए आप सबसे पहले बेस्ट कॉलेज के बारे में पता करें कि कहां इसकी पढ़ाई होती है और फिर वहां आवेदन करें।  

Competition Exam 

लेकिन यदि आप किसी सरकारी और सबसे बेस्ट कॉलेज से BBA की डिग्री हासिल करना चाहते हैं, तो आप कॉन्पिटिटिव एग्जाम के द्वारा एडमिशन ले सकते हैं। आइए जानते हैं कि BBA में एडमिशन लेने के लिए किन परीक्षाओं की तैयारी करनी होती है।

  • IPMAT integrated program in Management Aptitude Test
  • UGAT ( undergraduate aptitude test
  • SPJAT एसपी जैन एप्टिट्यूड टेस्ट
  • AUMAT Alliance undergraduate Management Aptitude Test

ऊपर बताए गए परीक्षाओं के द्वारा आप टॉप BBA  कॉलेज में एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं।

BBA course के लिए टॉप कॉलेज

  • New Horizon college Kasturi Nagar (Bangalore) 
  • Roorkee College of Engineering 
  • Mysore Institute of Commerce and Arts (Uttrakhand) 
  • Shaheed Sukhdev College of Business Studies (SSCB), New Delhi 
  • Flame University (Pune) 
  • Christ University Bangalore 
  • Narsee Monjee Institute of Management Studies (NMIMS) Deemed University, Mumbai
  • Symbiosis International University
  •  MT university in Noida 
  • Lovely Professional University, Jalandhar 
  • Jain University Bangalore 
  • SRM Institute of Science and Technology 
  • Arihant Group of Institute Pune

BBA course की फीस

 BBA course की fees दूसरे कोर्सेज की तुलना में काफी अधिक होती है। यदि छात्र प्राइवेट कॉलेज से BBA course करते हैं, तब उनकी fees लगभग एक लाख से 50,0000 तक हो सकती है, क्योंकि भारत में मौजूद तमाम प्राइवेट कॉलेजेस की फीस अलग-अलग होती है।  लेकिन यदि छात्र इंट्रेंस एग्जाम व कॉन्पिटिटिव एग्जाम निकालने के बाद BBA course में एडमिशन लेते हैं, तो उनकी फीस आधी हो जाती है, क्योंकि एग्जाम को निकालने के बाद उनकी ऐडमिशन सीधा गवर्नमेंट कॉलेज में होती है। जिस वजह से उनके फीस बहुत ही कम लगती है। हालांकि इन परीक्षाओं में क्वालीफाई करना इतना मुश्किल होता है कि छात्र BBA course में एडमिशन लेने के लिए सबसे आसान तरीका अपनाते हैं और वह प्राइवेट से अपनी पढ़ाई पूरी करते हैं।

BBA course के बाद जॉब 

 BBA की पढ़ाई पूरी करने के बाद छात्रों को अच्छी नौकरी प्राप्त होती है और सबसे अच्छी बात तो यह है कि BBA  के बाद बहुत सारी वैकेंसी होती है, जहां छात्र अप्लाई कर के जॉब पा सकते हैं। इस कोर्स को पूरा करने के बाद छात्र प्राइवेट और गवर्नमेंट दोनों ही क्षेत्रों में नौकरी पा सकते हैं। वे सेल्स और मार्केटिंग स्टोर में भी जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं। आइए जानते हैं कि बीबीए करने के बाद छात्रों को किस तरह की नौकरी प्राप्त होती है

  • Business consultant 
  • Financial analyst 
  • Finance manager 
  • Research analyst 
  • HR manager 
  • Marketing manager
  • travel management 
  • Accounting and Finance Management
  • Sales and marketing management
  • Entrepreneurship 
  • Supply chain management

BBA course के बाद सैलरी 

BBA की पढ़ाई पूरी करने के बाद उसकी सैलरी हाई होती है। लेकिन सच बात तो यह है कि सैलरी, छात्रों के नॉलेज पर डिपेंड करती है। यानी की BBA की पढाई पूरी करने करने के बाद जिस छात्र के पास जितनी ज्यादा नॉलेज होगी,उसे सैलरी उतनी ही ज्यादा मिलेगी। लेकिन यदि बेसिक सैलरी की बात की जाए तो बीबीए के बाद ₹15,000 से ₹20000 तक की नौकरी मिलती है। लेकिन यह सैलरी वक्त के साथ बढ़ सकती है। आपको जितना ज्यादा काम का नॉलेज और एक्सपीरियंस होगा और आप जितने अच्छे से अपने प्रोजेक्ट को मैनेज कर सकेंगे उतनी ही ज्यादा आपको सैलरी मिलेगी और साथ ही प्रमोशन भी मिलेगा। 

BBA course करने के फायदे

वैसे तो आज छात्र किसी भी फील्ड का चयन करने से पहले इस बात को जरूर जानना चाहते हैं, की उन्हे यह कोर्स करने के बाद क्या फायदे और नुकसान होंगे। तो दोस्तों आपको बता दूं कि BBA course करने के बहुत से फायदे हैं खासकर उनके लिए जिन्हें बिजनेस फील्ड से काफी लगाव है। जो अपना खुद का बिजनेस करना चाहते हैं या बिजनेस के बारे में जानना चाहते हैं। यदि आप BBA जैसे स्नातक कोर्स चुनते हैं, तो आपको अच्छी खासी नौकरी प्राप्त होगी, जैसा कि हमने ऊपर आपको बताया है।

 लेकिन यदि आप नौकरी नहीं करना चाहते हैं तो आप MBA course कर सकते हैं BBA करने के बाद MBA की डिग्री प्राप्त करना सबसे अच्छा होता है। MBA के लिए आपको 2 साल और मेहनत करनी होती है, इसके बाद आप अच्छी खासी नौकरी वह भी अच्छे पैकेज की सैलरी के साथ प्राप्त कर सकते हैं। MBA करने के बाद सैलरी पैकेज तो बढ़ती ही है, साथ ही आपको एक रेपुटेड पोस्ट भी ऑफर की जाती है। वैसे BBA course पूरा करने के बाद आप गवर्नमेंट सेक्टर में भी नौकरी पा सकते हैं और इसके अलावा आईटी इंडस्ट्रीज में भी BBA छात्रों को नौकरी मिलती है।

लेकिन यदि आप कॉरपोरेट्स एक्टिविटी इत्यादि सीखना चाहते हैं, तो आप BBA के बाद वह भी सीख सकते हैं। लेकिन यदि आपको इन सभी नौकरी में इंटरेस्ट नहीं है तो आप BBA की पढ़ाई पूरी करने के बाद एक अच्छी यूनिवर्सिटी में BBA के प्रोफेसर भी बन सकते हैं।

अन्तिम शब्द 

दोस्तों मुझे उम्मीद है, कि आज के इस आर्टिकल BBA Course Full Details in hindi में आपको BBA से संबंधित पूरी जानकारी प्राप्त हो गई होगी। लेकिन यदि अभी भी आपके मन में BBA से संबंधित कोई प्रश्न है, तो आप कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं। हम आपको आपके प्रश्नों के जवाब देने की जल्द से जल्द कोशिश करेंगे। यदि आपको आर्टिकल पसंद है, तो इसे सोशल मीडिया पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि और लोगों को BBA कोर्स के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके, ताकी उन्हे आगे की पढाई करने में आसानी हो।

FAQ

1) BBA kya hai?

BBA एक बैचलर यानी स्नातक डिग्री कोर्स है। जिसमे बिज़नेस से सम्बंधित पढाई की जाती है। 

2 ) BBA ki fees kitni hai?

प्राइवेट कॉलेज से BBA करने से उसकी fees लगभग 1 लाख से 50,0000 तक होती है लेकिन सरकारी कॉलेज से BBA करने पर फीस बहुत कम लगती है।

3) BBA के लिए योग्यता?

BBA के लिए किसी भी स्ट्रीम से 12 पास होना अनिवार्य है। 

4) BBA Ka Full Form?

BBA का फुल फॉर्म बैचलर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन(Bachelor of Business Administration) है। 

5) BBA Ka vetan kitna hota hai?

BBA के बाद ₹15,000 से ₹20000 तक की नौकरी मिलती है। लेकिन यह सैलरी वक्त के साथ बढ़ सकती है।

YOU MAY ALSO READ:

Leave a Comment