3D Printing Business in India

हेलो दोस्तो आज हम आपको 3D Printing Business in India इसके बारे में जानकारी देने वाले है। इसलिए अगर आप भी इसके बारे में जानना चाहते है तो आप एकदम सही जगह पर आए है। क्युकी आज हम आपको 3D Printing क्या है? और इससे Related सभी जानकारी देने वाले है।

आज का जो युग है वह तकनीक का युग है और इसने New Inventions होते रहते है। इन तकनीकों ने हमारे जीवन को बहुत ही ज्यादा आसान बना दिया है। इन्हीं में से एक 3D Printing Technology है।

मेरे खयाल से आप सब 2D Printing के बारे में तो जानते ही होंगे जिसमे हम Printer के जरिए कागज पर या फिर शिट पर Text या Photo छापते है। आपको बता दे की, कागज पर जो Photo छपी होती है ना वह 2D होती है और उस Photo का भौतिक रूप जो होता है वह 3D में होता है।

3D Printing Business में हम लोग 3D Printing की Technique की Help से 3D Object को बनाते है। आपको बता दे की, इस Technique का इस्तेमाल सभी जगह होता है। जैसे कि, Manufacturing से लेकर Construction तक हर जगह पर होता है। इसमें अभी कुछ नए नए सुधार भी हो रहे है ताकि आनेवाले समय में यह और ज्यादा Effective हो।

3D Printing Business के बारे में समजनें से पहले हम 3D Printing क्या होती है इसके बारे थोड़ा बहुत जान लेते है।

3D Printing क्या होती है? :

3D Printing का मतलब इडिटिव Manufacturing एक Digital File से 3 Dimensional वस्तुएं बनाने की एक Process होती है। एक 3D Printed Object को बनाने के लिए Additive process (योगात्मक़ प्रक्रिया) का इस्तेमाल किया जाता है। इसे बनाने के लिए CAD Model और Digital Model का इस्तेमाल होता है। जो CAD Model होता है उसे 3D Printer के द्वारा धातु से भौतिक रूप दिया जाता है।

3D Printing के लिए कुछ प्रमुख धातु लगते है। जैसे कि, Printing Glass, Glue, Plastic, Ceramic इन का इस्तेमाल किया जाता है। Design करते वक्त इन धातुओं को एक दूसरे के ऊपर रखकर Design को तैयार किया जाता है।

3D Printing के लाभ क्या है? :

1.Fast production : 3D प्रिंटिंग Traditional manufacturing के तुलना में बहुत ही ज्यादा तेज है। यह production (उत्पादन) के लिए सिर्फ कुछ घंटे लगाता है। 

2.Better Quality : यह Traditional Manufacturing की तुलना में बहुत ही Better Quality की वस्तु को बनाता है। इसकी Help से हम बहुत ही कम समय में एक अच्छी Quality की वस्तु बना सकते है।

3. Effective Cost : Traditional prototype जिसे में पैसे बहुत खर्च होते है और साथ इस मशीन को चलाने के लिए एक अनुभवी आदमी की जरूरत होती है। इसमें आपको मजदूर भी ज्यादा लगते है। पर जो 3D Printing है उसे चलाने के आपको सिर्फ एक व्यक्ति की जरूरत लगती है। इसलिए बकियो के मुकाबले 3D Printing एक Best Option है।

4. Business use : आप 3D Printing का इस्तेमाल गहने Design करने के लिए साथ ही architecture और दूसरे उद्योगों में इसका इस्तेमाल कर सकते है। यह बाहरी मोल्ड के इस्तेमाल के बिना किसी भी आकर के बनाने को आसान कर देता है।

यह एक Fast काम करने वाली और Accurate परिणाम देने वाली Technique है। साथ ही आपको बता दे की, Accumain Research & Consulting ने दुनिया के 3D Printing Market को $41 Billion तक पहुंचाने का अनुमान लगाया है। इससे आप एक अंदाजा लगा सकते है कि यह एक कितना बड़ा Business हो सकता है आपके लिए।

3D Printing का उदाहरण : 

हमने आपको नीचे कुछ Industrys बताई है जहा पर 3D Printing का इस्तेमाल होता है। इसलिए अगर आप चाहते है तो इनके बारे में सोच कर 3D Printing का Business Start कर सकते है।

  • Consumer Products (Eyewear, Footwear, Design, Furniture)
  •  Industrial products (manufacturing equipment, prototypes, functional end-use parts)
  •  Dental products
  •  Prosthesis
  •  Architectural scale model
  •  Reconstruction of fossils
  •  Copying ancient artifacts
  •  Reconstruction of Evidence in Forensic Pathology
  •  Film props

3D Printing Business को करने के लिए कितने पैसे लग सकते है? :

अगर आप इस Business को करने के बारे में सोच रहे है तो आपको यह business करने के लिए कम से कम 4-5 लाख रुपए का खर्चा आ सकता है।

इस Business को करने के लिए आपको लगने वाली सबसे जरूरी चीज 3D Printing मशीन है। Market में आपको बहुत सारे प्रकार की 3D Printing मशीन देखने को मिल जाएगी। जिनकी कीमत एकदम आपके बजट में होगी। मतलब की इनकी कीमत हजार से शुरू होकर लाखो तक होगी। 

हमारे भारत में को 3D Printing मशीन बनी है उसकी कीमत लगभग 20,000 तक है। और इसके अलावा जो Imported 3D Printing मशीन है उनकी कीमत लगभग 1,20,000 रूपए तक कि है सकती है।

3D Printing Business को करने के लिए लगनेवाली जरूरी चीजे : 

  • 3D प्रिंटिंग मशीन
  • सॉफ्टवेयर
  • कच्चा माल
  • जगह

3D Printing Business शुरू करने के लिए आपको यह सब चीजे लगने वाली है। अब हम जानते है कि, आपको यह करने के लिए कौन कौन से Licence की जरूरत पड़ेगी।

3D Printing Business शुरू करने के लिए लगनेवाले Licence : 

Company Registration : सबसे पहले आपको अपने Company को रजिस्टर करना पड़ेगा। उसके बाद लगनेवाले Licence हमने आपको नीचे बताए है।

जैसे कि, 

  • व्यापार लाइसेंस
  • GST रजिस्ट्रेशन
  • उद्योग आधार कार्ड

इन सब Documents की आपको जरूरत लगनेवाली है। 

3D Printing मशीन कहा कहा पर इस्तेमाल होती है? : 

अब हम 3D Printing मशीन कहा कहा पर इस्तेमाल होती है उनके बारे में आपको बताते है। नीचे हमने आपको यह मशीन जहा पर इस्तेमाल होती है उसके बारे में बताया है। जैसे कि,

  • चश्मे बनाने में
  • गाड़ी के Parts बनाने में
  • Construction Field में
  • मेडिकल फील्ड में
  • medical devices बनाने में
  • Computer और Robots बनाने में
  • Arts में (Paintings बनाने में)

यह कुछ जगह है जहां पर 3D Printing का इस्तेमाल होता है। अब आप सोच सकते है कि, 3D Printing Business एक कितना बड़ा Business हो सकता है। आनेवाले Time में बहुत आगे जाने वाला है।

Conclusion 

दोस्तो आपको 3D Printing Business in India यह Article कैसा लगा हमे Comment में जरूर बताए। साथ ही अगर यह Article आपको अच्छा लगा हो तो इसे अपने Social Media पर जरूर share करे। 

इस Article से Related अगर कोई भी Question आपके मन मे हो तो हमे जरूर बताए हम आपकी हमेशा Help करने के लिए तैयार है।

Leave a Comment