जाने सबकुछ महा भूलेख ऑनलाइन डिजिटल सतबारा के बारे में | Everything about Maha Bhulekh Online Digital Satbara

आम तौर पर लोग फ्लैट या अपार्टमेंट खरीदने से जुड़े नियमों के आदी होते हैं। हालांकि, अगर आप महाराष्ट्र में प्लॉट खरीदना चाहते हैं तो क्या होगा? ऐसे मामलों में, महाभूलेख में उपलब्ध ‘7/12 उतर’ या ‘सतबारा उतरा’ (7/12 उद्धरण) एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है। वास्तव में, 7/12 दस्तावेज भूमि के एक टुकड़े के स्वामित्व की स्थापना के लिए महत्वपूर्ण है। 7/12 रसीद का उपयोग किसानों द्वारा बड़े पैमाने पर ऋण समझौतों, फसल सर्वेक्षण और अन्य सरकारी सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए किया जाता है।

अधिकारों के अन्य सभी अभिलेखों की तरह, महाभूलेख में 7/12 उद्धरण में भूमि के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी शामिल है, जिसमें सर्वेक्षण संख्या, क्षेत्र, मालिक, भूमि में उनका हिस्सा, भूमि पर अतिक्रमण आदि शामिल हैं।

यदि आप महाराष्ट्र के रहने वाले हैं तो महाराष्ट्र सरकार के द्वारा आप लोगों को भूमि संबंधित जानकारी एवं Land Record उपलब्ध कराने के लिए “महाभूलेख” यानी महाराष्ट्र भूमि अभिलेख के नाम से एक पोर्टल की शुरूआत की गई है । 

इस पोर्टल के जरिए आप पुणे, नाशिक ,औरंगाबाद ,नागपुर ,कोंकण और अमरावती जैसे राज्य के प्रमुख स्थानों के आधार पर आगे विभाजित किया गया है , पोर्टल की सहायता से आप इन प्रमुख जगहों के भू नक्शा ,Online land records, खतौनी नंबर ,खेवत नंबर ,खेसरा नंबर  इत्यादि से संबंधित सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं । इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ते-पढ़ते आप Mahabhulekh Maharashtra Portal के बारे में लगभग हर एक जानकारी प्राप्त कर लोगे ।

क्या है भूमि रिकॉर्ड के लिए बना “महाभूलेख” Portal?

भूमि दस्तावेजों को डिजिटल बनाने की तर्ज पर, महाराष्ट्र राज्य सरकार ने एक ऑनलाइन पोर्टल (Onine Portal) महा भूलेख शुरू किया है। महाराष्ट्र के Citizen महा भूलेख पोर्टल पर राज्य के भूमि रिकॉर्ड ऑनलाइन देख सकते हैं। महाराष्ट्र सरकार ने हाल ही में एक नया (7/12 और 8A) भूमि रिकॉर्ड जारी किया है और वेबसाइट पर उपलब्ध कराया है। 

महाराष्ट्र सरकार के द्वारा महाराष्ट्र के नागरिकों को भूमि संबंधित जानकारी एवं भूमि रिकॉर्ड इत्यादि उपलब्ध कराने के लिए “महाभूलेख” के नाम से एक पोर्टल लांच किया गया है , जो मुख्य रूप से पुणे ,नाशिक ,औरंगाबाद, नागपुर, कोंकण और अमरावती महाराष्ट्र के प्रमुख स्थान हैं जिसे पोर्टल पर जानकारी को विभाजित करके रखती है । जो कोई इच्छुक व्यक्ति महाराष्ट्र राज्य में भूमि के बारे में जानना चाहता है वह इस पोर्टल के माध्यम से भूमि संबंधित सभी जानकारी ऑनलाइन के माध्यम से हासिल कर सकता । Mahabhulekh Portal के द्वारा राज्य के लाभार्थियों को भूमि संबंधी जानकारी तो मिलेगी ही साथ ही साथ उन्हें सरकारी कार्यालय या दफ्तर का भी चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा जिससे उनकी कीमती समय भी बच पाएगी ।

अब कोई भी ऑनलाइन आवेदक कम्प्यूटरीकृत भूमि रिकॉर्ड, महाभूलेख डेटा, भूमि रिकॉर्ड डेटा और अपने मालिक के बारे में जानकारी देख सकते हैं। वेबसाइट के visitor अमरावती, नागपुर, औरंगाबाद, कोंकण, नासिक और पुणे के सभी डिवीजनों के भूमि रिकॉर्ड विवरण देख सकते हैं। कोई भी उपयोगकर्ता महा भूलेख पोर्टल पर जा सकते हैं और पोर्टल पर डिजिटल 712 ई सतबारा और उतरा, 8 ए और संपत्ति कार्ड (मलमत्ता पत्रक) ऑनलाइन देख सकते हैं।

महाराष्ट्र भूलेख 7/12 उतरा (सतबारा) की विशेषताएं

राज्य के अलग-अलग जगहों पर भूमि अभिलेख को अलग अलग नाम से भी जाना जाता है जैसे इसे कहीं पर जमाबंदी, खसरा खतौनी, अभिलेख ,भूमि का विवरण, खेत के कागजात ,खेत का नक्शा, जमीन के कागजात  इत्यादि के नाम से जाना जाता है । एवं इन दस्तावेज को प्राप्त करने या इस दस्तावेज की जानकारी को चेक करने के लिए राज्य के लोगों को पटवार खाने या सरकारी अफसरों या कार्यालयों के चक्कर लगाने की आवश्यकता नहीं है वह लोग अपने घर बैठे इंटरनेट एवं अपने मोबाइल के प्रयोग से महाभूलेख ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर अपने जमीन और दस्तावेज से संबंधित जानकारी को देख सकते हैं । Mahabhulekh Portal की सहायता से राज्य के लोग कहीं से भी और कभी भी अपनी भूमि संबंधित सभी दस्तावेज को ऑनलाइन देख और इसे डाउनलोड कर सकते हैं ।

  • महा भूलेख 7/12 या महाराष्ट्र भूमि अभिलेखा राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई एक आधिकारिक वेबसाइट है जो नागरिकों को भूमि रिकॉर्ड तक पहुंच प्रदान करती है।
  • महा भूलेख सतबारा (7/12) को सोलापुर, पुणे और स्थानीय भाषा मराठी में सूचीबद्ध अन्य क्षेत्रों के लोगों द्वारा पहुँचा जा सकता है।
  • नागरिक 8ए संपत्ति पत्रक जैसे दस्तावेज भी प्राप्त कर सकते हैं और आधिकारिक पोर्टल से डिजिटल रूप से हस्ताक्षरित स्टाबारा कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।
  • सतबारा के माध्यम से किसान सरकारी संस्थानों द्वारा दिए गए ऋणों की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
  • इस दस्तावेज़ का उपयोग भूमि के स्वामित्व के प्रमाण के रूप में किया जाता है।
  • नागरिक सतबारा में मौजूद भूमि से संबंधित सभी जानकारी देख सकते हैं।

ऑनलाइन/डिजिटल 7/12 (ई सतबारा और उतरा) 2021 @bhulekh.mahabhumi.gov.in कैसे चेक करें?

आधिकारिक पोर्टल पर ऑनलाइन/डिजिटल 7/12 (ई स्टाबारा और उतरा) की जांच करने के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया

कोई भी ऑनलाइन पोर्टल राज्य के नागरिकों को ऑनलाइन सुविधा देने के लिए ही शुरू की जाती है और महाराष्ट्र महा भूमि अभिलेख पोर्टल का भी यही उद्देश्य है ,वैसे जब महाभुलेख पोर्टल का विकास नहीं हुआ था तब राज्य के लोगों को जमीन संबंधित दस्तावेज या भूमि जानकारी या फिर भूमि नक्शा निकालने के लिए पटवार खाने अन्यथा सरकारी कर्मचारी एवं सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाने पड़ते थे जो काफी समय लेने और भागदौड़ वाला काम होता था , और इस सभी काम के पीछे लोगों का काफी ज्यादा समय भी बर्बाद हो जाता था । इस समस्या को देखते हुए एवं इन परेशानियों को दूर करने के लिए राज्य सरकार के द्वारा Mahabhulekh Portal का विकास किया गया । एवं भूमि संबंधित सभी जानकारी राज्य के नागरिक इस Mahabhulekh Portal की सहायता से ऑनलाइन ही देख सकते हैं जिससे उनका समय भी बचता है साथ ही उन्हें भागदौड़ भी नहीं करनी होती है ।

  • भूमि अभिलेख देखने के लिए महा बुलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • होम पेज पर, विभाग अनुभाग में, सूचीबद्ध विकल्पों में से अपने क्षेत्र का चयन करें।
  • क्षेत्र चुनने के बाद गो बटन पर क्लिक करें।
  • अब नए खुले हुए पेज में 7/12 या 8A का चयन करे।
  • चयन के बाद, जिला, तालुका और गांव का चयन करे।
  • दिए गए रेडियो बटनों में से अपनी पसंद का चयन करें और सर्च बटन पर क्लिक करें।
  • लास्ट नेम डालने के बाद सर्च बटन पर क्लिक करें।
  • दिए गए क्षेत्र में मोबाइल नंबर दर्ज करें।
  • मोबाइल नंबर डालने के बाद 7/12 पर क्लिक करें।
  • दिए गए क्षेत्र में कैप्चा दर्ज करें।
  • 7/12 देखने के लिए Button-Verify Captcha पर क्लिक करें।
  • अब आवेदक नीचे दिखाए गए अनुसार पोर्टल पर अपने भूमि रिकॉर्ड की जांच कर सकते हैं।

सतबारा (7/12) क्या है?

सतबारा उतरा गांव, तालुका, जिला, मालिकों के नाम, उनके शेयरों जैसे विवरणों के साथ-साथ भूमि के स्वामित्व का रिकॉर्ड है। इसमें भूमि का प्रकार, क्षेत्र, फसलें, काश्तकारी विवरण, ऋण और देनदारियां आदि भी शामिल हैं। सतबारा सरकारी भूमि रजिस्टर से एक उद्धरण है। Mahabhulekh (Maharashtra Bhumi Abhilekh) महाराष्ट्र की ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड वेबसाइट है। इसे महाराष्ट्र के राजस्व विभाग के सहयोग से राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र द्वारा विकसित किया गया है।

सतबारा की आवश्यकता क्यों है और यह कैसे मदद करता है?

  • सतबारा भूमि स्वामित्व के प्रमाण के रूप में कार्य करता है
  • नए भूमि खरीदार भूमि के स्वामित्व की जांच कर सकते हैं
  • भूमि पर किसी भी देनदारियों और बकाया राशि को जानने में मदद करता है
  • जमीन पर गतिविधियों को जानने में मदद करता है
  • जमीन की खरीद करते समय सतबारा की आवश्यकता होती है और यह एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है जिसे उप-पंजीयक कार्यालय में प्रस्तुत करने की आवश्यकता होती है।
  • विवादों के मामले में सतबारा भूमि प्रमाण के रूप में कार्य करता है

महाराष्ट्र भूलेख भूमि अभिलेख पोर्टल का मुख्य उद्देश्य क्या है?

महाराष्ट्र भूलेख भूमि अभिलेख पोर्टल का मुख्य उद्देश्य राज्य के भूमि अभिलेखों को देखना है।

महाभूलेख पोर्टल पर भूमि अभिलेखों को विभाजित करने वाले विभिन्न खंड कौन से हैं?

पोर्टल पर उपलब्ध विभिन्न खंड अमरावती, नागपुर, औरंगाबाद, कोंकण, नासिक और पुणे हैं।

महाराष्ट्र के भूमि अभिलेख पोर्टल का संचालन कौन करता है?

महाराष्ट्र का भूमि अभिलेख विभाग महाराष्ट्र के आधिकारिक पोर्टल का संचालन करता है।

क्या महाराष्ट्र के 7/12 (ई स्टाबारा/उटारा) भूमि अभिलेखों की जांच के लिए कोई पुरानी वेबसाइट है?

कृपया ध्यान दें कि mahabhulekh.maharashtra.gov.in पुरानी वेबसाइट है और अब इसे bhulekh.mahabhulekh.gov.in में बदल दिया गया है।

अगर महाराष्ट्र में सतबारा या 7/12 से धोखे से आपका नाम हटा दिया जाए तो क्या करना होगा?

सबसे पहले, आपको अधिकारियों के पास शिकायत दर्ज करनी होगी क्योंकि वैध दस्तावेज जमा किए बिना महाराष्ट्र में 7/12 उद्धरण से नाम नहीं हटाया जा सकता है। यदि आप अभी भी संतुष्ट नहीं हैं, तो आप तहसीलदार के कार्यालय में एक प्रमाणित प्रति के लिए आवेदन कर सकते हैं और कानूनी रूप से प्रतिलिपि के माध्यम से स्कैन कर सकते हैं और अंत में अपने निष्कर्षों के आधार पर कानूनी सहायता से इसे चुनौती दे सकते हैं।

मैं महाराष्ट्र में 7/12 से नाम कैसे हटा सकता हूं?

महाराष्ट्र में सतबारा 7/12 उद्धरण से एक नाम हटाने के लिए, आपको स्थानीय तहसीलदार से संपर्क करना होगा और उन्हें सहायक दस्तावेज उपलब्ध कराने होंगे। साथ ही, जिस व्यक्ति का नाम आप महाराष्ट्र में 7/12 से हटा रहे हैं, उसके कानूनी उत्तराधिकारी हैं, तो आगे बढ़ने से पहले आपको उनसे अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त करना होगा।

7/12 में म्यूटेशन (अपडेशन) के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

यदि भूमि मालिक को ऑनलाइन महाभूलेख 7/12 में दी गई जानकारी में और 7/12 के उद्धरण में हस्तलिखित जानकारी में कोई विसंगति या त्रुटि मिलती है, तो वह ऑनलाइन सुधार के लिए आवेदन कर सकता है। त्रुटियों में शामिल हो सकते हैं:

7/12 . का कुल क्षेत्रफल

क्षेत्रफल की इकाई

खाता धारक का नाम

खाताधारक का क्षेत्रफल

महाराष्ट्र में भूमि रिकॉर्ड के सुधार और अद्यतन के लिए आवेदन कैसे करें:

Step 1: https://pdeigr.maharashtra.gov.in/frmLogin पर ई-अधिकार पोर्टल पर जाएं और पृष्ठ के निचले भाग में ‘लॉग इन करने के लिए संसाधित’ पर क्लिक करके एक खाता बनाएं।

Step 2:

वारिस जोड़ें

कार्यालय का नाम

मृत व्यक्ति का नाम

विश्वास का नाम बदलें।

Step 4: भूमि अभिलेखों में किए गए परिवर्तनों को दर्ज करने के लिए विवरण जमा करें।

ध्यान दें कि जब आप https://pdeigr.maharashtra.gov.in/frmLogin पर पब्लिक डेटा एंट्री (पीडीई) पोर्टल पर लॉग ऑन करते हैं, तो पीडीई को पूरा करें और पंजीकरण के लिए ई-स्टेपिन सुविधा का उपयोग करें। ऐसा करने से इस कोरोनावायरस महामारी के दौरान SRO में भीड़ को रोका जा सकेगा, इस प्रकार, आपकी सुरक्षा सुनिश्चित होगी। https://appl2igr.maharashtra.gov.in/TokenBooking/TokenBook.aspx पर eStepin के माध्यम से स्लॉट को दो बार फिर से बुक किया जा सकता है। किसी विशेष दिन के लिए बुक किया गया कोई भी स्लॉट पूरे दिन के लिए वैध होता है। उपलब्धता होने पर नागरिकों को उसी दिन स्लॉट बुक करने की अनुमति है।

7/12 ऑफलाइन में म्यूटेशन (अपडेशन) के लिए आवेदन कैसे करें?

यदि आप ऑनलाइन महाभूलेख 7/12 दस्तावेज़ में उत्तराधिकारियों या नए खरीदारों के नाम जोड़ने या हटाने में असमर्थ हैं, तो यह महत्वपूर्ण है कि आप तहसीलदार के कार्यालय में व्यक्तिगत रूप से अनुरोध जमा करें। इसके लिए ‘आपले अभिलेख’ से डाउनलोड किए गए बिक्री विलेख और 7/12 दस्तावेज की एक प्रति संलग्न करें। एक बार स्वीकृत होने के बाद, आपके नाम पर 7/12 के संबंध में उत्परिवर्तन प्रविष्टि ली जाएगी। आगे के मार्गदर्शन के लिए आप किसी प्रॉपर्टी वकील से भी सलाह ले सकते हैं।

ध्यान दें कि RoR पर किए जाने वाले किसी भी नामांतरण के लिए कोई शुल्क नहीं देना होगा। किसी भी आधिकारिक उद्देश्य के लिए, डिजिटल रूप से हस्ताक्षरित RoR कानूनी रूप से मान्य हैं और भौतिक कागज़ की प्रतिलिपि की कोई आवश्यकता नहीं है।

संपत्ति कार्ड के उत्परिवर्तन आवेदन की स्थिति को ‘पीआर कार्ड आवेदन स्थिति’ पर क्लिक करके देखा जा सकता है।

Leave a Comment